Search
Monday 21 August 2017
  • :
  • :

धर्मशाला क्रिकेट मैदान में तैयारिया लगभग पूरी, टिकटों की बिक्री छह जनवरी से

धर्मशाला क्रिकेट मैदान में 27 जनवरी को होने जा रहे भारत और इंग्लैंड के मध्य खेले जाने वाले एकदिवसीय क्रिकेट मैच के लिए छह जनवरी से टिकट कांउटर खुल जाएंगे। इसके चलते भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने भारत-इंग्लैंड मैचों की ऑनलाइन बुकिंग प्रक्रिया शुरू कर दी है।

दर्शकों की सहूलियत के लिए छह जनवरी को कांगड़ा जिला के अलावा प्रदेश के विभिन्न जिलों में जगह-जगह टिकटों के कांउटर खोले जाएंगे। प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन ने जिला कांगड़ा में चार स्थानों पर टिकट कांउटर खोलने का निर्णय लिया है। इस फेहरिस्त में डीएवी कांगड़ा, मकलोडगंज, पालमपुर व एचपीसीए स्टेडियम धर्मशाला में दर्शक टिकट खरीद सकेंगे।

हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ ने छात्रों के लिए टिकटों में छूट देने की घोषणा भी कर दी है। छात्र 250 रुपए में मैच का लुत्फ उठा सकेंगे। इसके लिए छात्रों के पास स्कूल पहचान पत्र होना जरूरी है। जबकि अन्य टिकट पांच सौ, आठ सौ, एक हजार व 12 सौ से लेकर अढ़ाई लाख रुपए तक हैं। फ़िलहाल अभी अन्य स्थानों पर टिकट काउंटर घोषित नहीं किया है पर दशकों की सुवुधा के लिए एचपीसीए जल्द ही प्रदेश के अन्य स्थानों में भी टिकट कांउटरों की घोषणा कर देगी।

क्योंकि ये पहला मौका है जब हिमाचल के अंदर किसी स्थान पर अंतराष्ट्रिय स्तर के क्रिकेट मैच का आयोजन किया जा रहा हो, तो एचपीसीए इसको सफल बनाने के लिए कोई भी कसार नहीं छोड़ना चाहेगीl संघ के अधिकारिओं के अनुसार क्रिकेट संघ ने मैच के आयोजन के लिए अधिकतर तैयारियां पूर्ण कर ली गई है और अब तो वो 27 जनवरी का इंतज़ार कर रहे हैl

इससे पहले धर्मशाला क्रिकेट मैदान पर आईपीएल के मैच सफलतापूर्वक करवाए जा चुके है और कई बड़े खिलाडी इस मैदान पर अपने खेल का प्रदर्शन भी कर चुके हैl धौलाधार की ऊँची पहाड़ों और हरीभरी वादिओं से घिरे होने के कारण धर्मशाला क्रिकेट मैदान भारत में क्या पुरे विश्व भर मैं सबसे सुन्दर मैदान में से एक है और उम्मीद है की भारत और इंग्लैंड के खिलाड़ी इस मैदान पर खेल का खूब आनंद लेंगेl



The News Himachal seeks to cover the entire demographic of the state, going from grass root panchayati level institutions to top echelons of the state. Our website hopes to be a source not just for news, but also a resource and a gateway for happenings in Himachal.